फाफामऊ गोहरी गांव में चार लोगों की हत्या मामले में पुलिस ने पवन सरोज को गिरफ्तार किया

प्रयागराज जिले के गंगापार फाफामऊ में गोहरी गांव में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या के मामले में पुलिस ने रविवार को पवन सरोज नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया.

और परीक्षण रिपोर्ट में मृतक युवती के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है.

अपर पुलिस महानिदेशक (प्रयागराज जोन) प्रेम प्रकाश ने बताया कि फाफामऊ थाना अंतर्गत चार लोगों की हत्या के मामले में विवेचना की प्रगति से जो तथ्य सामने आए, उसके आधार पर रविवार को पवन सरोज नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है.

उन्होंने बताया कि परीक्षण रिपोर्ट के आधार पर यह सिद्ध हुआ है कि वहां बलात्कार हुआ है. मेडिकल ओपिनियन में बताया गया है कि युवती के अंगों पर जो घाव के निशान हैं उसके मुताबिक एक व्यक्ति द्वारा दुष्कर्म किया गया है.

युवती की मां के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है. लड़की को परेशान करता था पवन प्रेम प्रकाश ने बताया कि पवन सरोज, मृतकों की जाति का है.

पवन सरोज लगातार लड़की को परेशान करता था और उसके मोबाइल पर मैसेज भेजता था. अंतिम मैसेज के आधार पर और परिस्थितिजन्य साक्ष्य के आधार पर पवन सरोज की गिरफ्तारी की गई है.

उन्होंने बताया कि पवन सरोज विवेचना में सहयोग नहीं कर रहा है. हालांकि अभी तक यह बात सिद्ध हो गई है कि इसके द्वारा कुछ लोगों के सहयोग से हत्या की घटना को अंजाम दिया गया. पवन हर बार बदल बदल कर नाम

बता रहा है. हत्या में शामिल अन्य लोगों की विवेचना जारी है. उनकी कॉल डिटेल, डीएनए प्रोफाइल के आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है. किशोरी के ‘आई हेट यू’ लिखने के बाद अचानक बंद कर दी चैटिंग प्रयागराज।

Also Read

देवांशी सिंह के साथ परिणय सूत्र में बंधे बीबीडी ग्रुप के चेयरमैन विराज सागर दास।

पुलिस अफसरों ने बताया कि अहम बात यह है कि 21 नवंबर यानी घटना वाली रात से पहले शाम को भी पवन सरोज ने अपने नंबर से एक मैसेज किशोरी के मोबाइल पर भेजा जिसमें उसने आई लव यू लिखा था। इसके कुछ

देर बाद ही किशोरी की ओर से आई हेट यू लिखकर इस मैसेज का जवाब दिया गया। चौंकाने वाली बात यह कि लगातार मैसेज भेजकर किशोरी को परेशान करने वाले पवन ने इसके बाद से उसे कोई मैसेज नहीं भेजा। जबकि

अगले तीन दिन तक किशोरी और उसके परिजनों की लाश घर में ही पड़ी रही और इसकी भनक किसी को नहीं थी। सवाल यह है कि लगातार मैसेज भेजने वाला शख्स ने अचानक से आखिर कैसे चैटिंग बंद कर दी। जबकि

इससे पहले भी किशोरी मैसेज के जरिए ही उसका विरोध कई बार कर चुकी थी। कहीं ऐसा तो नहीं कि उसकी मौत की जानकारी आरोपी को हो गई थी और यही वजह थी कि फिर उसने उसके मोबाइल पर मैसेज नहीं भेजा।

किशोरी का रिश्तेदार है आरोपी का फरार दोस्त पुलिस अफसरों ने बताया कि गिरफ्तार पवन सरोज को जो दोस्त फरार बताया जा रहा है, वह मृतक किशोरी का रिश्तेदार है। किशोरी के परिवार की युवती की शादी उसकेपरिवार

में हुई है और इस नाते वह उसके घर आती-जाती भी थी। पूछताछ में आरोपी ने बताया है कि उसे किशोरी का नंबर उसी दोस्त ने दिया था और उससे व्हाट्सएप पर बात करने को कहा था। इसकेबाद ही वह किशोरी को

मैसेज भेजने लगा। अफसरों ने बताया कि उस दोस्त की लोकेशन फिलहाल पूणे में मिली है और उसकी तलाश में टीमें लगी हैं। उधर दो दिन पहले लापता हुए रिश्तेदार की भी तलाश की जा रही है। फाफामऊ ( phaphamau

hatyakand) के गोहरी गांव (Gohari Village) में हुए चर्चित दलित परिवार के 4 लोगो की हत्या का मामला।

ADG प्रेम प्रकाश (ADG prem Prakash) ने प्रेस कांफ्रेंस करके मामले का दिया अपडेट। एक और युवक पवन कुमार सरोज (Pawan kumar saroj arrested) को पुलिस ने किया है गिराफ्तार। पुलिस का कहना है लड़के से

शुरुआती जांच में एक तरफा प्यार (One sided love) का है मामला सामने आ रहा है। पुलिस का दावा है कि लड़की के आई हेट यू (I hate you message) मैसेज के बाद हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। पुलिस ने किया

Also Read

‘कबूल है, कबूल है, कबूल है…यह क्या किया तूने समीर’, नवाब मलिक फोड़ा ‘ट्वीट बम’Mumbai

खुलासा फाफामऊ दलित परिवार (phaphamau dalit pariwar) के 4 लोगों की हत्या के मामले में पुलिस को एक अहम सुराग हाथ लगा है। घटना की जांच कर रही सर्विलांस टीम ने 17 साल की मृतक लड़की के मोबाइल

चेक किया तो उसके वॉटस ऐप (Whatsapp) पर एक लड़के का कई मैसेज पड़ा हुआ था जिससे पुलिस को एक तरफा अफेयर का शक हुआ और पुलिस ने इस युवक को हिरासत में ले लिया। पकड़े गए युवक का नाम पवन

कुमार सरोज है और ये मृतक लड़की के काफी दिनों से पीछे पड़ा था। पवन उर्फ प्रधान को लिया हिरासत में पुलिस ने पवन उर्फ प्रधान को हिरासत में लेकर लंबी पूछताछ की, लेकिन वो घटना को अंजाम देने की बात कबूल

नही किया, हालांकि पकड़े गए युवक के हाथ मे चोट के ताज़ा निशान और उसके कपड़े पर लगे खून को देख कर पुलिस को शक है कि इसी ने एक तरफा प्यार में ये घटना की है और इसके इसके कुछ साथी भी शामिल रहे होंगे,

और इसके पास घटना को करने का मोटिव भी था , हालंकि अभी पुलिस भी पूरी तरह से मुतमईन नही है इसलिए हिरासत में लिए गए युवक का डीएनए और उसके कपड़ो की फोरेंसिक जांच की जाएगी उसके बाद ही कुछ साफ

होगा। लड़की द्वारा आई हेट यू मैसेज भेजा गया पुलिस (up police )को सुराग लड़के और लड़की की फोन कॉल डिटेल्स और हत्या वाले दिन शाम के वक्त लड़की के मोबाइल में व्हाट्सएप चैट (Whatsapp chat) से मिला।

अरोपी पवन मृतक लड़की को हर रोज़ मेसेज करता था। लड़की द्वारा आई हेट यू मैसेज (I hate you message) किये जाने के बाद युवक ने कोई मैसेज नहीं किया है। पुलिस युवक के फ़ोन कॉल डिटेल के आधार पर उसके

साथियों की धरपकड़ के लिये जानकारी जुटा रही है। बहरहाल अब तक उस सामूहिक हत्याकांड की घटना की एफआईआर में नामजद 11 लोगो मे से 8 लोग पहले से ही गिरफ्तार किए जा चुके है। अब पुलिस के इस खुलासे ने

पूरी घटना में नया मोड़ ला दिया है परिवार के 4 लोगो का शव मिला गौरतलब है कि 25 नवंबर की सुबह फाफामऊ क्षेत्र में एक ही परिवार के 4 लोगो का शव मिला था। सभी लोगो की हत्या धारदार हथियार से की गई थी

जिसके बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई थी । मृतकों के परिजनों की तहरीर के आधार पर कई लोगों को हिरासत में लिया गया है जबकि कई लोगो को गिरफ्तार किया गया है, जिनसे पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है।

ऐसे में आज पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए मामले को नया मोड़ देते हुए एक युवक को गिरफ्तार किया है.

शेयर करने के लिए धन्यवाद्

You may also like...