प्रदर्शनकारियों ने रेल प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए पुतला जलाया

डीआरएम ऑफिस में कथित भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर मंगलवार को विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारियों ने रेल प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए डीआरएम ऑफिस के बाहर नारेबाजी के बीच पुतला जलाया।

इस दौरान पुलिस और आरपीएफ जवानों ने प्रदर्शनकारियों से पुतला छीनने की कोशिश की, हालांकि धक्कामुक्की के बीच प्रदर्शनकारियों ने पुतला आग के हवाले कर दिया। नवाब यूसुफ रोड पर प्रदर्शन के दौरान

नवाब यूसुफ रोड पर जाम के हालात भी बने। प्रदर्शनकारी रेल प्रशासन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे थे। मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय, केंद्रीय रेल विद्युतीकरण संगठन कार्यालय, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कार्यालय के बाहर

एवं शहर के कई अन्य चौराहों पर कुछ लोगों ने पोस्टर लगाकर मंगलवार 16 नवंबर को भ्रष्ट अफसरों की शव यात्रा और पुतला दहन का एलान कर दिया। तमाम जगह पोस्टर लगे होने की खबर मिलने के बाद रेल महकमे में

हड़कंप मच गया। बाद में डीआरएम ऑफिस की दीवार पर लगाए गए पोस्टरों को हटवाया गया।पोस्टर में राष्ट्र रक्षक समूह लिखा होने के साथ उसमें दो मोबाइल नंबरों का भी उल्लेख था। इसमें लिखा गया कि अमृत महोत्सव

का महाअभियान प्रारंभ। रेल प्रशासन का गंदा खेल जिससे मोदी हो जाएं फेल। पोस्टर लगाने पहुंचे युवकों ने नारेबाजी भी की।इसके माध्यम से 16 नवंबर को आंदोलन और शव यात्रा निकाले जाने की बात कही गई है।

बताया जा रहा है कि यह मामला रेलवे के एक पुराने टेंडर से जुड़ा हुआ है। एक ठेकेदार को तब टेंडर नहीं दिया गया था। इसके बाद संबंधित ठेकेदार ने धांधली का आरोप लगाते हुए दो वर्ष पहले भी डीआरएम ऑफिस में

पोस्टर आदि लगाए थे।प्रयागराज शहर के नाम युसूफ रोड में आज डीआरएम कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ स्वयंसेवी संस्था राष्ट्र समूह ने प्रदर्शन किया है । इस संस्था का कहना है कि अमृत महोत्सव महा अभियान

मनाने की कोई फायदा नहीं है। इनका कहना है कि उत्तर मध्य रेलवे के डीआरएम कार्यालय में भ्रष्ट अधिकारियों का जमावड़ा है जिसके चलते अमृत महोत्सव जैसे अभियान मनाने का कोई फायदा नहीं है । अपनी मांगों पर

डीआरएम को ज्ञापन सौंपने के बाद संस्था के सदस्योऔर पुलिस के बीच पुतला जलाने को लेकर नोकझोंक भी हुई है।

शेयर करने के लिए धन्यवाद्

You may also like...